पेज

मेरी अनुमति के बिना मेरे ब्लोग से कोई भी पोस्ट कहीं ना लगाई जाये और ना ही मेरे नाम और चित्र का प्रयोग किया जाये

my free copyright

MyFreeCopyright.com Registered & Protected

शुक्रवार, 18 मार्च 2011

सजन से मिलन का एक रंग

होली के रंग… मन में उमंग… दिल में तरंग……
सजन से मिलन का एक रंग



घूंघट की ओट में
सकुचाई लजाई
सजनिया
पी का रास्ता
निहार रही
आँखों में भर के
प्रीत के बादल
सजन का रास्ता
निहार रही
नैनों में छाये
रंग हजार
तन मन में
उठती प्रीत की
बयार
सब से है
छुपाय रही
कब आवेंगे
मोरे सांवरिया
प्रेम के रंगों की
लेके फुहरिया
नैन मूंदे
सोच रही थी
सपनो में उनके
खो रही थी
सुध बुध अपनी
भूल गयी थी
तभी आये
चुपके से सांवरिया
ले के हाथ में
रंगों की पुडिया
सजनिया पर
रंग बरसा गए
प्रेम रंग में
नहला गए
प्रीत का रंग
चढ़ा गए
हर्षित हो गयी
अब तो सजनिया
रंगों में खुद भी
डूब गई बावरिया
साजन ने पकड़ी
नाजुक कलइयाँ
रंग में भिगो दी
सारी चुनरिया
बाहो मे भर लीन्ही
सजनिया
कपोल पर अंकित
कर दीन्ही निशानियां
लाज को ताक पर
रख गये सांवरिया
होरी के बहाने
कर गए
छेड़छाड़ सांवरिया
ऐसी कर गये
ठिठोली सजनवा
प्रीत को कर गये
लाल सांवरिया


43 टिप्‍पणियां:

वाणी गीत ने कहा…

कई दिनों की उदैयों के बाद आज उतरा है कोई रंग आपकी कविता में ...
घूंघट की ओट में लजाने वाली प्रिया का इन्तजार ख़त्म हुआ और साजन ने प्रीत के से रंग दिया ..
सुन्दर प्रेममय होली गीत !

Rakesh Kumar ने कहा…

साजन सजनी का प्रेम -भक्ति का यह रंग सराबोर कर गया मन को .आखिर विरह की तडफ और मिलन की आस रंग ले ही आई. काश! सजनिया पे चढा रंग कभी न उतरे , प्रेम रंगों में सदा डूबी ही रहे और आप गाती ही रहें

"सजनिया पर
रंग बरसा गए
प्रेम रंग में
नहला गए
प्रीत का रंग
चढ़ा गए
हर्षित हो गयी
अब तो सजनिया
रंगों में खुद भी
डूब गई बावरिया

मनोज कुमार ने कहा…

रंगों को, और खास कर होली के मुबारक मौक़े पर आपने एक नई और अलग परिभाषा देने का प्रयास किया है।
होली है!!

रजनीश तिवारी ने कहा…

होली के रंगों में रंगी बहुत सुंदर रचना ...बधाई एवं होली की शुभकामनाएँ !

योगेन्द्र पाल ने कहा…

अति सुन्दर

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

होली की शुभकामनायें। सुन्दर गीत।

निर्मला कपिला ने कहा…

बहुत सुन्दर। होली की सपरिवार हार्दिक शुभकामनायें।

ѕнαιя ∂я. ѕαηנαу ∂αηι ने कहा…

बहुत ही मनभावन, बधाई।

यशवन्त माथुर ने कहा…

बेहतरीन!

सादर

muskan ने कहा…

आपको एवं आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनायें!

रश्मि प्रभा... ने कहा…

ye to rangon ki lali hai chehre per ... ek chutki abeer

Vijay Kumar Sappatti ने कहा…

prem ki meethi abhivyakti .. badhayi ho

अन्तर सोहिल ने कहा…

होली की शुभकामनायें जी

प्रणाम

नीरज गोस्वामी ने कहा…

होली की ढेरों शुभकामनाएं.
नीरज

OM KASHYAP ने कहा…

आप सभी को होली की हार्दिक शुभकामनाये

रमेश कुमार जैन उर्फ़ "सिरफिरा" ने कहा…

दोस्तों! अच्छा मत मानो कल होली है.आप सभी पाठकों/ब्लागरों को रंगों की फुहार, रंगों का त्यौहार ! भाईचारे का प्रतीक होली की शकुन्तला प्रेस ऑफ़ इंडिया प्रकाशन परिवार की ओर से हार्दिक शुभमानाओं के साथ ही बहुत-बहुत बधाई!

आप सभी पाठकों और दोस्तों से हमारी विनम्र अनुरोध के साथ ही इच्छा हैं कि-अगर आपको समय मिले तो कृपया करके मेरे (http://sirfiraa.blogspot.com , http://rksirfiraa.blogspot.com , http://shakuntalapress.blogspot.com , http://mubarakbad.blogspot.com , http://aapkomubarakho.blogspot.com , http://aap-ki-shayari.blogspot.com , http://sachchadost.blogspot.com, http://sach-ka-saamana.blogspot.com , http://corruption-fighters.blogspot.com ) ब्लोगों का भी अवलोकन करें और अपने बहूमूल्य सुझाव व शिकायतें अवश्य भेजकर मेरा मार्गदर्शन करें. आप हमारी या हमारे ब्लोगों की आलोचनात्मक टिप्पणी करके हमारा मार्गदर्शन करें और अपने दोस्तों को भी करने के लिए कहे.हम आपकी आलोचनात्मक टिप्पणी का दिल की गहराईयों से स्वागत करने के साथ ही प्रकाशित करने का आपसे वादा करते हैं

सदा ने कहा…

बहुत ही खूबसूरत शब्‍दों का संगम ...होली की शुभकामनाएं ।

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

होली पर गहरा रंग चढा है .. :):) सुन्दत प्रस्तुति ...होली की शुभकामनायें

राजेश उत्‍साही ने कहा…

रंग मुबारक हो।

ZEAL ने कहा…

sajan se milan ka rang...waah mazedaar hai .

इमरान अंसारी ने कहा…

वंदना जी,

वाह...फागुन में होली के रंग में रंग ये प्रणय मन को भीगो गया....अत सुन्दर .....आपको और आपके परिवार को रंगों के त्यौहार की बधाई|

मंजुला ने कहा…

सुन्दर पन्तिया ....
आपको होली की बहुत सारी शुभकामनाये

धीरेन्द्र सिंह ने कहा…

एकदम होली में भींगी-भांगी, थोड़ी सी सकुचाई-शरमाई किंतु शरारत लिए इस कविता को पढ़ने के बाद दिल यही कहता है कि - यह होली पको रंगों और सुगंधों से सराबोर कर दे और होली की मेरी शुभकामनाएं आप तक पहुंचा दे। मंगलमय होली की शुभकामनाएं।

Er. सत्यम शिवम ने कहा…

आपकी उम्दा प्रस्तुति कल शनिवार (19.03.2011) को "चर्चा मंच" पर प्रस्तुत की गयी है।आप आये और आकर अपने विचारों से हमे अवगत कराये......"ॐ साई राम" at http://charchamanch.blogspot.com/
चर्चाकार:Er. सत्यम शिवम (शनिवासरीय चर्चा)

शोभना चौरे ने कहा…

वाह जी ,होली अ ही गई |
बहुत सुन्दर श्रंगार रस से सरोबर रचना |

राज भाटिय़ा ने कहा…

होली की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

Dr Varsha Singh ने कहा…

मर्मस्पर्शी एवं भावपूर्ण काव्यपंक्तियों के लिए कोटिश: बधाई !

amit-nivedita ने कहा…

bahut hi khoob....

दर्शन कौर धनोए ने कहा…

कुहू कुहू बोले कोयालियाँ !
हम संग रंग खेले सावरियां !

मेरी पोस्ट पर आ के होली की बधाई कुछ इस तरह ले ......?

होली के रंगो से सराबोर ,गुझिए- सी मीठी आपकी रचना हमे तो रंग गई ---

सतीश सक्सेना ने कहा…

रसभरी रचना के लिए बधाई ! होली कि शुभकामना करता हूँ !

यशवन्त माथुर ने कहा…

आप को सपरिवार होली की हार्दिक शुभ कामनाएं.

अजय कुमार ने कहा…

फागुन की पूरी मस्ती है

सुरक्षित , शांतिपूर्ण और प्यार तथा उमंग में डूबी हुई होली की सतरंगी शुभकामनायें ।

ज्योति सिंह ने कहा…

"सजनिया पर
रंग बरसा गए
प्रेम रंग में
नहला गए
प्रीत का रंग
चढ़ा गए
हर्षित हो गयी
अब तो सजनिया
रंगों में खुद भी
डूब गई बावरिया
is mithi rachna ke saath holi ki badhaiyaan le .sundar

nivedita ने कहा…

आकर्षक आलेख ,होली के सारे रंग आपको भिगो जायें....

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

सुन्दर प्रेममय होली गीत,आपको होली की शुभकामनाएँ!

Patali-The-Village ने कहा…

फागुन की पूरी मस्ती है|
होली पर्व पर हार्दिक शुभकामनाएँ|

वन्दना अवस्थी दुबे ने कहा…

रंग-पर्व पर हार्दिक बधाई.

Dorothy ने कहा…

नेह और अपनेपन के
इंद्रधनुषी रंगों से सजी होली
उमंग और उल्लास का गुलाल
हमारे जीवनों मे उंडेल दे.

आप को सपरिवार होली की ढेरों शुभकामनाएं.
सादर
डोरोथी.

Indranil Bhattacharjee ........."सैल" ने कहा…

बहुत ही सुन्दर रचना होली के मौके पर !
आपको और आपके परिवार को होली की हार्दिक शुभकामनाएं !

M VERMA ने कहा…

प्रीत का रंग हर्षित तो करेगा ही

संजय भास्कर ने कहा…

मर्मस्पर्शी एवं भावपूर्ण......अति सुन्दर

संजय भास्कर ने कहा…

रंगों का त्यौहार बहुत मुबारक हो आपको और आपके परिवार को|
कई दिनों व्यस्त होने के कारण  ब्लॉग पर नहीं आ सका
बहुत देर से पहुँच पाया ....माफी चाहता हूँ..

baabusha ने कहा…

लालित्य भी है, कोमलता भी है , रस भी है....और सब से बढ़ कर आप भी हैं इस रचने में ! बहुत सुन्दर .