पेज

मेरी अनुमति के बिना मेरे ब्लोग से कोई भी पोस्ट कहीं ना लगाई जाये और ना ही मेरे नाम और चित्र का प्रयोग किया जाये

my free copyright

MyFreeCopyright.com Registered & Protected

रविवार, 23 अक्तूबर 2011

हम तो जलती आग हथेली पर लिये चलते हैं

यूँ तो 
शिलाखंडों मे छुपे 
लावे कब किसे दिखे है
एक आग से तार्रुफ़ 
कौन करे
सबने शिलाखंडो को
सिर्फ़ पिघलते देखा
मगर किसी ने भी
ना उसको जलते देखा
देखना है
जीता जागता शिलाखंड
मगर यहाँ
अन्दर धधकती  आग
के दरीचों मे
हवाओ मे उडती 
बालू के कण 
कही तुम्हारी आँख 
की किरकिरी ना बन जाये
तुम तो बस सिर्फ़ 
एक बार बाहर की
अग्नि का ही दीदार कर लो
उसकी ज्वाला से ना 
झुलस जाओ कहीं
देखो बचकर रहना
क्योंकि
हम तो जलती आग हथेली पर लिये चलते हैं


33 टिप्‍पणियां:

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बहुत खूब।

रश्मि प्रभा... ने कहा…

prabhu khaai isiliye banate hain ki tumhen santulan banana aa jaye ... yah aag hi to krishn ko likh rahi hai...

Maheshwari kaneri ने कहा…

बहुत खूब।.. .दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएं..

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

चेतावनी देती रचना ...

उनसे पूछिए जो खुद ही अग्नि शिलाखंड हों तो :)

अनुपमा पाठक ने कहा…

पवित्र अग्नि का प्रतीक ले लिखी गयी सुन्दर रचना!

shikha varshney ने कहा…

क्या बात क्या बात ...बहुत खूब लिखा है .

Arunesh c dave ने कहा…

वाह वाह आज तो आपने कमाल का लिखा है दीपावली की शुभकामनाएं

Anita ने कहा…

वाह ! बहुत जोश भरी कविता...

रविकर ने कहा…

शुभकामनाएं ||

रचो रंगोली लाभ-शुभ, जले दिवाली दीप |
माँ लक्ष्मी का आगमन, घर-आँगन रख लीप ||
घर-आँगन रख लीप, करो स्वागत तैयारी |
लेखक-कवि मजदूर, कृषक, नौकर व्यापारी |
नहीं खेलना ताश, नशे की छोडो टोली |
दो बच्चों का साथ, रचो मिलकर रंगोली ||

अरुण कुमार निगम (mitanigoth2.blogspot.com) ने कहा…

दहकती हुई रचना.अति सुंदर.

संगीता पुरी ने कहा…

बहुत खूब ..
सपरिवार आपको दीपावली की शुभकामनाएं !!

Rachana ने कहा…

sunder kavita aapko badhai
aapko aur aapke pure parivar ki Diwali ki bahut bahut shubhkamnayen
rachana

सुरेन्द्र "मुल्हिद" ने कहा…

a....ma.....zingggggg......

NISHA MAHARANA ने कहा…

दीये की लौ की भाँति
करें हर मुसीबत का सामना
खुश रहकर खुशी बिखेरें
यही है मेरी शुभकामना।

***Punam*** ने कहा…

दीपावली की शुभ कामनाएं......

अरुण चन्द्र रॉय ने कहा…

बहुत सुन्दर कविता... उद्वेलित करती सी....

सदा ने कहा…

वाह ...बहुत खूब कहा है आपने ...दीपोत्‍सव की शुभकामनाओं के साथ बधाई ।

इमरान अंसारी ने कहा…

सुभानाल्लाह........बहुत खूबसूरत...........

आपको और आपके प्रियजनों को दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें|

Sapna Nigam ( mitanigoth.blogspot.com ) ने कहा…

वाह, बेहतरीन कल्पना.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

क्या बात है....
बढ़िया प्रस्तुति...
आपको दीप पर्व की सपरिवार सादर बधाईयां....

आशा जोगळेकर ने कहा…

जलती आग हथेली पर लेकर चलते हैं तब तो आपको देखना ही होगा । सुंदर प्रस्तुति, अलग सी ।

M VERMA ने कहा…

बहुत सुन्दर

Kailash C Sharma ने कहा…

बहुत खूब!....दीपावली की हार्दिक शुभकामनायें!

कुश्वंश ने कहा…

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ

रजनीश तिवारी ने कहा…

सुंदर रचना ...दीपावली की शुभकामनायें

sushma 'आहुति' ने कहा…

गहन अभिवयक्ति........बहुत ही सुन्दर... शुभ दिवाली...

महेन्द्र मिश्र ने कहा…

दीपावली पर्व अवसर पर आपको और आपके परिवारजनों को हार्दिक बधाई और शुभकामनाएं....

सागर ने कहा…

bhaut hi khubsurat... happy diwali...

mahendra verma ने कहा…

हम तो जलती आग हथेली पर लिए चलते हैं।
आत्मविश्वास हो तो ऐसा ।
दीपावली की हार्दिक बधाइयां एवं शुभकामनाएं।

राज भाटिय़ा ने कहा…

आपको भी सपरिवार दीपावली की हार्दिक मंगलकामनायें!

विजयपाल कुरडिया ने कहा…

दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये............
प्रकाश पर्व दीपावली की हार्दिक शुभकामनाये ..मेरी और से भी बधाहिया सवीकार कीजिये

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

दीपावली के पावन पर्व पर आपको मित्रों, परिजनों सहित हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएँ!

way4host
RajputsParinay

virendra ने कहा…

DEEPAAWALI MANGALMAY HO , VANDNAJI

SUNDARTAM SAARGARBHIT


SRIJAN